आज का पंचाग आपका राशि फल, गुप्त नवरात्रि ६जुलाय से, अब ओपन हार्ट सर्जरी और एनजिओप्लास्टी का आ गया विकल्प! 17 दिसम्बर 2024 के आरम्भ होने वाली विश्व धर्म संसद की तैयारियों के लिये बैठक, वृद्धावस्था आश्रम अंग्रेजी शिक्षा की देन

🕉श्री हरिहरौ विजयतेतराम🕉

🌄सुप्रभातम🌄🗓आज का पञ्चाङ्ग🗓

🌻सोमवार, २४ जून २०२४🌻

सूर्योदय: 🌄 ०५:२८, सूर्यास्त: 🌅 ०७:१७

चन्द्रोदय: 🌝 २१:४५, चन्द्रास्त: 🌜०७:१३

अयन 🌖 दक्षिणायणे (उत्तरगोलीय)

ऋतु: ⛈️ वर्षा

शक सम्वत: 👉 १९४६ (क्रोधी)

विक्रम सम्वत: 👉 २०८१ (पिंगल)

मास 👉 आषाढ, पक्ष 👉 कृष्ण 

तिथि 👉 तृतीया (२५:२३ से चतुर्थी)

नक्षत्र 👉 उत्तराषाढ (१५:५४ से श्रवण)

योग 👉 इन्द्र (११:५२ से वैधृति)

प्रथम करण 👉 वणिज (१४:२५ तक)

द्वितीय करण 👉 विष्टि (२५:२३ तक)

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

॥ गोचर ग्रहा: ॥

🌖🌗🌖🌗

सूर्य 🌟 मिथुन, चंद्र 🌟 मकर

मंगल 🌟 मेष (उदित, पूर्व, मार्गी)

बुध 🌟 मिथुन (उदित, पूर्व, वक्री)

गुरु 🌟 वृष (उदय, पूर्व, मार्गी)

शुक्र 🌟 मिथुन (अस्त, पूर्व, मार्गी)

शनि 🌟 कुम्भ (उदित, पूर्व, मार्गी)

राहु 🌟 मीन, केतु 🌟 कन्या

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

शुभाशुभ मुहूर्त विचार

⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳

अभिजित मुहूर्त 👉 ११:५१ से १२:४८

अमृत काल 👉 ०९:४८ से ११:२०

सर्वार्थसिद्धि योग 👉 १५:५४ से २९:१७

विजय मुहूर्त 👉 १४:४० से १५:३७

गोधूलि मुहूर्त 👉 १९:२१ से १९:४०

सायाह्न सन्ध्या 👉 १९:२२ से २०:२१

निशिता मुहूर्त 👉 २४:०० से २४:३९

राहुकाल 👉 ०७:०२ से ०८:४८

राहुवास 👉 उत्तर-पश्चिम

यमगण्ड 👉 १०:३४ से १२:१९

होमाहुति 👉 मंगल

दिशाशूल 👉 पूर्व

अग्निवास 👉 आकाश

भद्रावास 👉 पाताल (१४:२५ से २५:२३)

चन्द्र वास 👉 दक्षिण

शिववास 👉 क्रीड़ा में (२५:२३ से कैलाश पर)

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

☄चौघड़िया विचार☄

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

॥ दिन का चौघड़िया ॥

१ – अमृत २ – काल

३ – शुभ ४ – रोग

५ – उद्वेग ६ – चर

७ – लाभ ८ – अमृत

॥रात्रि का चौघड़िया॥

१ – चर २ – रोग

३ – काल ४ – लाभ

५ – उद्वेग ६ – शुभ

७ – अमृत ८ – चर

नोट👉 दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है।

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

शुभ यात्रा दिशा

🚌🚈🚗⛵🛫

दक्षिण-पूर्व (दर्पण देखकर अथवा खीर का सेवन कर यात्रा करें)

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

तिथि विशेष:–गृह प्रवेश मुहूर्त प्रातः ०५:३८ से ०७:१९ तक आदि।

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

आज जन्मे शिशुओं का नामकरण

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

आज १५:५४ तक जन्मे शिशुओ का नाम

उत्तराषाढ नक्षत्र के तृतीय एवं चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (ज, जी) नामाक्षर से तथा इसके बाद जन्मे शिशुओ का नाम श्रवण नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय चरण अनुसार क्रमशः (खी, खू, खे) नामाक्षर से रखना शास्त्र सम्मत है।

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

उदय-लग्न मुहूर्त

मिथुन – २८:४२ से ०६:५७

कर्क – ०६:५७ से ०९:१९

सिंह – ०९:१९ से ११:३८

कन्या – ११:३८ से १३:५६

तुला – १३:५६ से १६:१७

वृश्चिक – १६:१७ से १८:३६

धनु – १८:३६ से २०:४०

मकर – २०:४० से २२:२१

कुम्भ – २२:२१ से २३:४६

मीन – २३:४६ से २५:१०+

मेष – २५:१०+ से २६:४४+

वृषभ – २६:४४+ से २८:३८+

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

पञ्चक रहित मुहूर्त

रोग पञ्चक – ०५:१७ से ०६:५७

शुभ मुहूर्त – ०६:५७ से ०९:१९

मृत्यु पञ्चक – ०९:१९ से ११:३८

अग्नि पञ्चक – ११:३८ से १३:५६

शुभ मुहूर्त – १३:५६ से १५:५४

रज पञ्चक – १५:५४ से १६:१७

शुभ मुहूर्त – १६:१७ से १८:३६

चोर पञ्चक – १८:३६ से २०:४०

शुभ मुहूर्त – २०:४० से २२:२१

रोग पञ्चक – २२:२१ से २३:४६

शुभ मुहूर्त – २३:४६ से २५:१०+

शुभ मुहूर्त – २५:१०+ से २५:२३+

रोग पञ्चक – २५:२३+ से २६:४४+

शुभ मुहूर्त – २६:४४+ से २८:३८+

मृत्यु पञ्चक – २८:३८+ से २९:१७+

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

आज का राशिफल

🐐🐂💏💮🐅👩

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ)

आज का दिन आपके लिए सौभाग्य में वृद्धि करने वाला रहेगा। परिवार में सुख शांति रहेगी कार्य व्यवसाय में भी कई दिन से चल रही योजना के सफल होने पर उत्साह का वातावरण बनेगा। धन लाभ आज आकस्मिक और आशाजनक ही होगा। भविष्य की योजनाओ के साथ पारिवारिक आवश्यकता की पूर्ति पर भी खर्च होगा। आज मीठा बोलने वालों से दूरी बना कर रहें अन्यथा जेब ढीली करनी पड़ेगी। महिलाये घरेलू कार्यो से ऊबन अनुभव करेंगी फिर भी जिम्मेदारी समय पर पूर्ण कर लेंगी। मित्र रिश्तेदारों के ऊपर खर्च करना पड़ेगा इनसे लाभ भी होगा।

वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)

आज का दिन आपके लिए शांतिदायक रहेगा। ईश्वरीय आराधना भजन-पूजन में निष्ठा रहने से मानसिक रूप से विचलित नही होंगे। कार्य व्यवसाय भी पहले की अपेक्षा बेहतर चलेगा परन्तु धन की आमद होने में कुछ ना कुछ विघ्न अवश्य आएंगे। सहकर्मी भी मनमानी करेंगे जिससे कार्य विलम्ब से पूर्ण होंगे बीच मे कहासुनी होने की भी संभावना है। कार्य क्षेत्र की अपेक्षा आज घर का वातावरण व्यस्त होने पर भी शांति की अनुभूति कराएगा। धार्मिक यात्रा के प्रसंग उपस्थित होंगे। संध्या का समय थकान रहने से आराम में बिताना पसंद करेंगे। स्त्री संतान का सुख सामान्य रहेगा।

मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा)

आज का दिन आपके लिए आर्थिक एवं सामाजिक दृष्टि से अशुभ रहेगा। सेहत में दिन भर उतार चढ़ाव लगा रहेगा। कार्य व्यवसाय एवं आर्थिक कारणों से मानसिक अशांति रहेगी। महिलाये भी आज पेट, कमर एवं अन्य शारीरिक अंगों में अकड़न-दर्द रहने से परेशान होंगी। कार्य व्यवसाय पर धन लाभ तो होगा लेकिन व्यर्थ के खर्च बढ़ने से तुरंत खर्च भी हो जाएगा। यात्रा की योजना आज टालना बेहतर रहेगा। खर्च के साथ दुर्घटना के भी योग है घर मे भी उपकरणों पर सावधानी से कार्य करें। पूजा पाठ में भी कम ही मन लगेगा। तंत्र-मंत्र के रहस्यों का प्रति रुचि बढ़ेगी।

कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)

आज के दिन आपको अपने अधिकांश कार्यो में विजय मिलेगी। सोच विचार कर ही किसी कार्य को करेंगे। आज धन लाभ प्रयास करने पर अवश्य होगा। सरकारी कार्यो में जोड़ तोड़ करके सफलता पा लेंगे। कार्य क्षेत्र पर आज आपका दबदबा रहेगा विरोधी आपके आगे आने की हिम्मत नही करेंगे। सहकर्मियों से बीच मे मतभेद होंगे निराकरण भी तुरंत हो जाएगा। घरेलू सुख भी आज उत्तम रहेगा। सुख सुविधा जुटाने पर खर्च करेंगे। लेकिन बाहर के खान-पान में संयम रखें बदहजमी गैस आदि की परेशानी हो सकती है। घर के बुजुर्ग से शुभ समाचार मिलेंगे।

सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)

आज के दिन आपको परिश्रम का उचित फल मिल सकेगा। कार्य व्यवसाय में थोड़ी मेहनत के बाद उत्साहजनक लाभ मिलेगा सहकर्मी आज आपसे ईर्ष्या करेंगे लेकिन आपकी दिनचार्य एवं व्यक्तित्त्व पर इसका कोई असर नही पड़ेगा। कुछ दिनों से चल रही धन संबंधित उलझने शांत होंगी। मन इच्छित कार्यो पर खर्च कर सकेंगे फिजूल खर्ची भी रहेगी लेकिन पारिवारिक खुशी के आगे व्यर्थ नही लगेंगे। सार्वजनिक कार्यो में आज कम रुचि लेंगे महिलाये भी आज अपने आओ में ही ज्यादा मस्त रहेंगी। पारिवारिक वातावरण छोटी मोटी बातो को छोड़ शांत ही रहेगा। सेहत सामान्य रहेगी।

कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)

आज के दिन आप अपने दिमाग पर कुछ ज्यादा ही जोर डालेंगे अनिर्णायक स्थिति रहने के कारण अधिकांश कार्य अधूरे रह जाएँगे या निरस्त भी करने पड़ सकते है। नौकरी वाले लोगो को अतिआत्मविश्वास के कारण कार्य मे हानि होंगी। व्यवसायी वर्ग भी आज लापरवाही करेंगे जिसके फलस्वरूप कार्य क्षेत्र पर अव्यवस्था फैलेगी जिसे सुधारना आज मुश्किल ही रहेगा। धन लाभ आज परिश्रम करने पर भी अल्प मात्रा में ही होगा। पारिवारिक स्थिति भी समय से मांग पूरी ना कर पाने पर खराब होगी। महिलाये अहसान जता कर कार्य करेंगी। संतान सुख भी कम ही रहेगा।

तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)

आज का दिन सावधानी से व्यतीत करें। आज आप बड़बोलेपन के कारण कलह को स्वयं ही आमंत्रण देंगे। प्रातः काल मे ही परिजन अथवा किसी आस-पड़ोसी से कलह के प्रसंग बनेंगे जिसके कारण मध्यान तक मन मे आवेश बना रहेगा। महिलाओ से आज संयमित व्यवहार रखें अन्यथा पूरी दिनचार्य खराब हो सकती है। कार्य क्षेत्र पर भी किसी ना किसी से छोटी-छोटी बातों पर उलझने के कारण काम-काज प्रभावित होगा सामाजिक सम्मान में भी आज कमी आएगी। आर्थिक कारणों से भी उलझे रहेंगे धन की आमद खर्च निकलने लायक भी नही रहेगी। शान्त रहने का प्रयास करें।

वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)

आज के दिन दौड़ धूप तो रहेगी लेकिन इसका सकरात्मक परिणाम भी मिलेगा। व्यवसाय में आज निश्चिन्त होकर कार्य करें जोखिम लेने से ना डरें मध्यान तक की मेहनत का फल संध्या के आस-पास मिलने लगेगा। धन का निवेश भी आज दुगना होकर ही वापस आएगा। अधिकारी वर्ग की नरमदिली कार्यो को आसान बनाएगी। सरकार सम्भाधित कार्य आज पूर्ण हों सकते है प्रयास करते रहें। महिलाये अधिक बोलने की आदत के कारण हास्य की पात्र बनेगी लेकिन गृहस्थ को संभालने में सहायक भी रहेंगी। पैतृक सम्बन्धित कार्यो अथवा पिता से लाभ होगा।

धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे)

आज का दिन आपके लिए संतोषजनक रहेगा। आप आवश्यकता रहने पर भी आर्थिक मामलों को ज्यादा महत्त्व नही देंगे। सहज रूप से जितना मिल जाएगा उसी में संतोष कर लेंगे। मध्यान तक आलस्य अधिक रहने के कारण कार्यो में सुस्ती दिखाएंगे इसके बाद का समय बेहतर रहेगा कही से आकस्मिक लाभ के समाचार मिलने से उत्साहित होंगे साथ ही निश्चिन्त होने पर लापरवाही भी बढ़ेगी। नौकरी वाले जातक अधिकारियों से किसी कारण नाराज रहेंगे। महिलाये मानसिक रूप से शांत रहेंगी परन्तु व्यवहारिकता में रूखापन

दिखाएंगी। परिवार में नासमझी के कारण तनाव हो सकता है।

मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी)

आज का दिन पिछले दिनों की अपेक्षा राहत भरा रहेगा। शारीरिक रूप से भी आज पहले से बेहतर अनुभव करेंगे। बुजुर्गो की सेहत में सुधार आयेगा। व्यावसायिक क्षेत्र पर आज आरम्भ में असमंजस की स्थिति रहेगी परन्तु धीरे -धीरे गाड़ी पटरी पर आने लगेगी। दिन के अंतिम भाग में बिक्री में तेजी आने से धन की आमद होगी। प्रतिस्पर्धियों से बहस के प्रसंग भी बनेंगे इससे बचने का प्रयास करें। पैतृक संबंधों से भी भविष्य में लाभ की उम्मीद बनेगी। दाम्पत्य सुख में थोड़ी नीरसता रहने पर भी बाहर की अपेक्षा शांति का अनुभव होगा। संताने सहयोगी रहेंगी।

कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)

आज का दिन आपको घर एवं बाहर कुछ ना कुछ हानि कराएगा। आज प्रत्येक कार्य को देख भाल कर ही करें। अतिआवश्यक कार्य यथा संभव आज टाल ही दें अन्यथा समय के साथ धन की भी बर्बादी होगी। सरकारी कार्य नियमो की उलझन में लटके रहेंगे। नौकरी वाले लोग आज कागजी कार्यो में सावधानी रखें। व्यापारी वर्ग आज व्यापार में उतार चढ़ाव के दौर से गुजरेंगे एक पल में लाभ की आशा बनेगी अगले ही पल आशा निराशा में बदल जाएगी। घर गृहस्थी में भी आज किसी ना किसी के बीमार पड़ने से अतिरिक्त परेशानी रहेगी। महिलाये पुरुषों की अपेक्षा शांत रहेंगी।

मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)

आपके लिए आज का दिन लाभदायक रहेगा। दिन के आरंभ में अवश्य थोड़ी सुस्ती रहेगी इसके बाद का समय व्यस्त रहेगा। कार्य क्षेत्र के साथ ही आज अन्य काम भी आने से थोड़ी असुविधा होगी परन्तु तालमेल बैठा ही लेंगे। नौकरी वाले लोगो को अधिकारी वर्ग के गंभीर रहने से थोड़ी परेशानी तो होगी लेकिन इसका परिणाम बाद में लाभदायक रहेगा सही समय पर कार्य पूर्ण होंगे। व्यवसायी वर्ग आज लेदेकर काम चलाने की नीति अपनाएंगे खर्च करने पर ही लाभ की स्थिति बन सकेगी। महिलाये भी आज भविष्य के लिए संचय कर सकेंगी।

〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️🙏राधे राधे🙏

*गुप्त नवरात्रि पर्व 6 जुलाई से साधना से पाएं सिद्धियां*✍️आचार्य पं. नरेन्द्र कृष्ण शास्त्री

✍🏻आगामी 6 जुलाई से गुप्त नवरात्रि का पर्व प्रारंभ होने बाला है, नवरात्र अर्थात् मां भगवती के नौ रूपों, नौ शक्तियों की पूजा के वो दिन जब मां हर मनोकामना पूरी करती है। यूं तो हर साल चैत्र और शारदीय नवरात्र होते हैं जिनमें लोग पूरी श्रद्धा के साथ घट स्थापना करते हैं लेकिन 2 और नवरात्र भी होते हैं… *गुप्त नवरात्र* इनके बारे में बहुत ही कम लोग जानते हैं। हिंदू पंचांग के अनुसार गुप्त नवरात्र वर्ष में 2 बार आते हैं एक *माघ* महीने में और दूसरा *आषाढ़* महीने में..!

*गुप्त नवरात्रि में दस महाविद्याओं की होती है पूजा*

✍🏻आचार्य पं. नरेन्द्र कृष्ण शास्त्री ने बताया कि गुप्त नवरात्रि के नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की बजाय दस महाविद्याओं की पूजा की जाती है। ये दस महाविद्याएं हैं – माँ काली, तारा देवी, त्रिपुर सुंदरी, भुवनेश्वरी, छिन्नमस्ता, त्रिपुर भैरवी, मां धूमावती, बगलामुखी, मातंगी और कमला देवी।

✍🏻वर्ष में 2 बार आने वाली गुप्त नवरात्रि बेहद खास होती है। इस नवरात्र की पूजा विधि चैत्र और शारदीय नवरात्रि से बिल्कुल अलग होती है और यही कारण है कि गुप्त नवरात्रि अन्य नवरात्र से बिल्कुल अलग और खास होते हैं। कहते हैं इन नवरात्रों में मां भगवती की देर रात गुप्त रूप से पूजा की जाती है और इसलिए इन्हें गुप्त नवरात्र कहा जाता है।

*शैव साधनाओं का पर्व:-* गुप्त नवरात्रि के दौरान साधक तांत्रिक क्रियाएं, शैव साधनाएं, श्मशान साधनाएं, महाकाल साधनाएं, आदि करते हैं और सफलता प्राप्त कर लेने पर विभिन्न शक्तियों और दुर्लभ सिद्धियों के स्वामी बन जाते हैं। गुप्त नवरात्रि के दौरान विनाश और संहार के देव, महाकाल और महाकाली की आराधना होती है..!!

*”ज्योतिष शास्त्र, वास्तुशास्त्र, वैदिक अनुष्ठान व समस्त धार्मिक कार्यो के लिए संपर्क करें:-*

MUST CIRCULATE🇨🇭

हाल ही में, सीने में दर्द के कारण एक व्यक्ति को पुणे के एक जाने-माने नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था। 2016 में उन्हें पहले अटेक हुआ था और उनका इलाज चल रहा था। डॉक्टरों ने अब एंजियोग्राफी का सुझाव दिया है।

मल्टी स्पेशियलिटी अस्पताल में एंजियोग्राफी के दौर से गुजरने पर डॉक्टरों ने कई ब्लॉकेज का पता लगाया, जिसके लिए एंजियोप्लास्टी को खारिज कर दिया गया और इसके बजाय, ‘बाईपास सर्जरी’ का सुझाव दिया गया।

उस शाम, उन्हें घर लाया गया क्योंकि डॉक्टर ने उनके दिल को बहुत कमजोर होने का सुझाव दिया, बाईपास केवल 10 – 15 दिनों के बाद ही उच्च जोखिम के साथ किया जा सकता था।

इस बीच, रिश्तेदारों और करीबी दोस्तों के साथ इस मामले पर चर्चा करने के बाद, एक पारिवारिक मित्र से ताजा जानकारी मिली।

EECP थेरेपी के रूप में जाना जाने वाला एक नया उपचार BY Indian Medical AIIMS DOCTOR के द्वारा पेश किया गया है।

अब इसका अनुमोदन US FDA और T.N GOV ने किया है

यहाँ हार्ट ब्लॉकेज बिना बाईपास सर्जरी के और बिना स्टेंट के इलाज करेंगे, इस एडवांस्ड “EECP Mechine” के साथ.

इस थेरेपी के साथ, एक रोगी जिसे बाईपास से गुजरना पड़ता है, उसे ऐसा करने की आवश्यकता नहीं है

(इसे नैचुरल बायपास कहा जाता है)

इसके बजाय, रोगी को IV तरल पदार्थों की लगभग 20 बोतलें दी जाती हैं, जिसमें कुछ दवाएँ इंजेक्ट की जाती हैं। दवा प्रणाली को साफ करती है और हृदय और धमनियों से सभी रुकावटों को दूर करती है। दी गई बोतलों की संख्या रोगी की आयु-कारक और स्वास्थ्य के आधार पर बढ़ सकती है।

प्रति बोतल लागत 2000 / – रुपये के आसपास हो सकती है।

वर्तमान में, भारत में कुछ डॉक्टर इस क्षेत्र में विशेषज्ञ हैं

भोपाल में

Dr.Leena Sambhalkar

Mob No 9977310314

इस पद्धती से सफल इलाज करती हैं ।

पुणे मे

DR.VIKARAM RATHOD यह इलाज करते हैं, मोब: 09500037040

07200648296, 04443192129

यह किसी की मदद कर सकता है अतः इसे अधिक से अधिक अपने पारिवारिक मित्रो, सगे संबंधियों को भेजें ….🧑🏻🙏🌹(साभार शोशल मीडिया) 

*सम्पूर्ण विश्व के हर भारतीय के सम्मानपूर्वक जीने के अधिकार की आवाज बनेगी विश्व धर्म संसद*

*हमारी जलती हुई चिताये सम्पूर्ण मानवता के लिए प्रकाश स्तम्भ बनेगी-महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी जी*

*हम हर स्थिति में महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी जी का साथ देंगे- साध्वी आस्था माँ*

*निरंजनी अखाड़े की महामंडलेश्वर साध्वी अन्नपूर्णा भारती सभी हिन्दू धर्मगुरुओ को विश्व धर्म संसद के लिये आमंत्रित करेगी।*

आज शिवशक्ति धाम डासना में 17 दिसम्बर 2024 के आरम्भ होने वाली विश्व धर्म संसद की तैयारियों के लिये बैठक आयोजित की गई।
बैठक में देश के कोने कोने से महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी जी महाराज के शिष्य उपस्थित हुए।
बैठक को सम्बोधित करते हुए शिवशक्ति धाम डासना के पीठाधीश्वर व श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़े के महामंडलेश्वर यति नरसिंहानंद गिरी जी महाराज ने कहा कि साधारण हिन्दुओ के सहयोग और समर्थन से होने वाली यह विश्व धर्म संसद असाधारण इतिहास रचेगी।विश्व धर्म संसद सम्पूर्ण विश्व के हर गैरमुस्लिम के सम्मानपूर्वक जीने के अधिकार की आवाज बनेगी।यह विश्व का पहला ऐसा मंच है जहाँ दुनिया का कोई भी इस्लामिक जिहाद का पीड़ित व्यक्ति या समुदाय अपनी पीड़ा दुनिया के सामने रख सकता है।
इसके लिये हमने उस यज़ीदी और यहूदी समुदाय के प्रतिनिधियों को भी बुलाया है जो हजार वर्षों से इस्लामिक जिहाद के दंश को झेलकर आज खत्म होने के कगार पर है।
उन्होंने यह भी कहा कि हम जानते ही विश्व धर्म संसद को रोकने के लिये इस्लामिक जिहादी कुछ भी कर सकते हैं।परंतु इन्हें ये समझना चाहिये कि हम हर स्थिति को झेलने के लिए तैयार हैं।हमारी जलती हुई चिताये सम्पूर्ण मानवता के लिये प्रकाश स्तम्भ का कार्य करेगी और हमारे बलिदान से मानवता की रक्षा का मार्ग प्रशस्त होगा।
बैठक में यह तय किया गया कि निरंजनी अखाड़े की महामंडलेश्वर साध्वी अन्नपूर्णा भरतो जी विश्व धर्म संसद का निमंत्रण सभी सनातनी धर्मगुरुओ तक पहुँचाएगी।
बैठक में यह भी तय किया गया कि यति सत्यदेवानंद जी,यति रामस्वरूपानंद जी,यति रणसिन्हानंद जी,यति निर्भयानंद जी कर्मयोगी आचार्य आशीष गोडसे जी के साथ सिक्ख,जैन और बौद्ध धर्मगुरुओ को विश्व धर्म संसद का निमंत्रण देंगे।
बैठक में श्री महेश आहूजा,पंडित अधीर कौशिक, डॉ उदिता त्यागी,साध्वी आस्था माँ,बिट्टू बजरंगी,अनिल यादव,धीरज नागर, अशोक पांडेय,वेद नागर, अनिल मावी,नरेंद्र नागर,पंडित विजय कौशिक,विनोद आजाद,मोहित बजरंगी,सरदार राजीव सिंह,बहन ममता अरोड़ा,राजू सैनी,हरि सिंह आर्य,अमित चौहान,अजित मलिक, चहन सिंह बालियान, निरंजन जाधव सहित अनेक भक्तगण उपस्थित रहे।

मेरी बेटी न्यूयार्क में 

मेरा छोटा बेटा शिकागो में

मेरा बड़ा बेटा और बहू टोरंटो में हैं,

बेटे बेटियों ने आज फादर्स डे पर मेरे साथ की पुरानी फोटो भी सोशल मीडिया पर फोटो पोस्ट किया है ….

अरे वाह!! आप तो बहुत खुशकिस्मत इंसान हैं, आप किसके साथ कहां रहते हैं???

वृद्धा आश्रम में 🥹🙏🏼

आधुनिक समाज का एक घिनौना सच ये भी है